शुक्रवार, 20 सितम्बर 2019 | समय 06:42 Hrs(IST)

चुनाव परिणाम

पूरा विवरण जानें
पार्टी आगे जीते
ताज़ा खबरें

पुर्णिया

बिहार

मैप पर क्लिक कर जानें अपने राज्य की डिटेल्स

मैप 2019 नतीजों पर आधारित हैं

तीखे बयान

  • मतदान की तारीख: 18 अप्रैल
  • जनसंख्या: 1582626
  • सन्तोष कुमार
  • सन्तोष कुमार
  • जेडीयू
 पूर्णिया सीट को सीमांचल की राजधानी भी कहा जाता है। 2014 के चुनाव में मोदी लहर की बयार जब पूरे देश में बह रही थी तो सीमांचल ही था जिसने मोदी लहर को थाम लिया था। पूर्णिया सीट ने नीतीश कुमार की इज़्ज़त भी बचाई थी। 2014 में जदयू के संतोष कुशवाहा ने इस सीट पर जीत दर्ज की थी। उन्होंने भाजपा के उदय सिंह को चुनाव हराया था। संतोष कुशवाहा को 2014 के चुनाव में 4 लाख 18 हज़ार 826 वोट मिले थे जबकि उदय सिंह को 3 लाख 2 हज़ार 157 वोट हासिल हुए थे। पूर्णिया की जीत नीतीश कुमार के लिए नालंदा से भी बड़ी जीत थी। राजद ने अमरनाथ तिवारी को प्रत्याशी बनाया था और वो तीसरे स्थान पर रहे।


1952 में कांग्रेस के फनी गोपाल सेन गुप्ता यहां से सांसद बने। 1957 से 1967 तक फनी गोपाल सेन गुप्ता ने यहां से जीत दर्ज की। 1971 में कांग्रेस के मो. बिन ताहिर विजयी हुए। 1977 में लखन लाल कपूर ने भारतीय लोक दल के टिकट पर चुनाव लड़ते हुए जीत दर्ज की। 1980 और 1984 में कांग्रेस की माधुरी सिंह ने चुनाव जीता। 1989 में जनता दल के मो. तस्लीमुद्दीन ने जीत दर्ज की। 1996 में पप्पू यादव सांसद बने। 1998 में....

ताज़ा खबर

तीखे बयान

निर्वाचन क्षेत्र के उम्मीदवार

ताज़ा आलेख