सोमवार, 3 अगस्त 2020 | समय 15:30 Hrs(IST)

योगी आदित्यनाथ बोले- हमने शिलान्यास और उदघाटन दोनों करना सीखा है

By LSChunav | Publish Date: 11/21/2019 6:43:54 PM
योगी आदित्यनाथ बोले- हमने शिलान्यास और उदघाटन दोनों करना सीखा है

3 से 4 मेगावाट बिजली की खपत यहां होगी और शेष बिजली बेची जाएगी। यानि 30 करोड़ रुपये सालाना उससे भी कमाई होगी। एक नई सोच के साथ, एक नए विश्वास के साथ हम सबका साथ और सबका विकास की तरफ आगे बढ़ रहे हैं।

बस्ती (उत्तर प्रदेश)। मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली सरकारों ने केवल शिलान्यास करना सीखा था लेकिन हमने शिलान्यास और उद्घाटन दोनों करना सीखा है। योगी ने मुंडेरवा में 5,000 टीसीडी पेराई क्षमता की नई चीनी मिल एवं 27 मेगावॉट को-जनरेशन प्लांट का लोकार्पण करते हुए कहा कि एक तरफ मुंडेरवा में बीस साल से बंद चीनी मिल को शुरु किया गया तो दूसरी तरफ प्रदेश में नौजवानों के लिए 49 हजार भर्तियों के रिजल्ट को भी खोलकर प्रदेश सरकार उत्तर प्रदेश के नौजवानों को नौकरी देने का काम कर रही है। मुंडेरवा चीनी मिल का चालू होना यहां के लोगों के लिए एक सपने के पूरा होने जैसा है।

 
मुख्यमंत्री ने कहा कि मुंडेरवा चीनी मिल 20 साल पहले बंद हुई थी, इस दौरान किसानों को आंदोलन करना पड़ा था। आज चीनी मिल शुरू हुई है। सपा, बसपा और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधते हुए योगी ने कहा कि पिछली सरकारों ने जनता को  वोटबैंक  समझ रखा था, हमने जनता को  जनार्दन  बनाया। सपा, बसपा, कांग्रेस की नीयत में खोट था। हमारी नीयत में खोट नहीं था, हमारी नीयत साफ है। हमने किसानों, जनता, छात्रों और महिलाओं के साथ खिलवाड़ नहीं किया। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार में नौजवानों की भर्ती पूर्ण पारदर्शिता के साथ की गई। वहीं पिछली सरकारों में भर्तियों के दौरान अलग-अलग जिलों में लोग वसूली के अभियान पर निकल पड़ते थे। योगी ने कहा कि सपा, कांग्रेस, बसपा सभी को केंद्र और प्रदेश में सत्ता प्राप्त हुई थी, लेकिन किसी ने भी नौजवानों और किसानों के बारे में नहीं सोचा। मुंडेरवा चीनी मिल अब प्रतिदिन 50 हजार कुंतल गन्ने की पेराई करेगी। पहले चीनी मिल को पॉवर कॉरपोरेशन पर निर्भर रहना पड़ता था। लेकिन अब चीनी मिल स्वयं बिजली पैदा करेगी। मुंडेरवा चीनी मिल 27 मेगावाट बिजली पैदा करेगी। 3 से 4 मेगावाट बिजली की खपत यहां होगी और शेष बिजली बेची जाएगी। यानि 30 करोड़ रुपये सालाना उससे भी कमाई होगी। एक नई सोच के साथ, एक नए विश्वास के साथ हम सबका साथ और सबका विकास की तरफ आगे बढ़ रहे हैं। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज 116 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास का कार्यक्रम भी हुआ है। बस्ती में मेडिकल कॉलेज खुल चुका है। पहले चरण का प्रवेश और ओपीडी भी शुरु हो चुकी है। 1947 से 2016 तक उत्तर प्रदेश में कुल 12 मेडिकल कॉलेज खुले थे। 2017-2020 तक उत्तर प्रदेश सरकार यहां 15 मेडिकल कॉलेज की स्थापना कर रही है। इसके साथ ही 14 नए मेडिकल कॉलेजों का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा जा चुका है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने चीनी मिलें बंद कराई थी। 12 वर्ष में पूर्वांचल की 12 चीनी मिलों समेत उत्तर प्रदेश की 29 चीनी मिलों को बंद किया गया था। हमारी सरकार ने ढाई साल में बंद पड़ी चीनी मिलों को चलाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने अब तक गन्ना किसानों का बकाया 76 हजार करोड़ रुपए का भुगतान कराया। हम गन्ना किसानों का शोषण नहीं होने देंगे। शोषण करने वाली चीनी मिलों की कुर्की कर किसानों का भुगतान कराया जाएगा। एक वो थे जो किसानों पर गोली चलाते थे। एक भाजपा सरकार है जो किसानों के हित के लिए योजनाओं को लेकर आई है। योगी ने कहा कि केंद्र सरकार ने अनुच्छेद 370 को हटा कर कश्मीर से आतंकवाद का सफाया किया है। उच्चतम न्यायालय ने अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि से संबंधित मामले में 535 वर्षों की पीड़ा को 45 मिनट में समाप्त कर दिया। ये लोकतंत्र की और न्य़ाय पालिका की ताकत है। उन्होंने कहा कि अगले वर्ष सिद्धार्थनगर चीनी मिल का शुभांरभ करेंगे। बस्ती के बाद सिद्धार्थनगर में मेडिकलकॉलेज खोलेंगे। स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ ही सुपर मेडिकल फैसिलिटी मुहैया होगी। योगी ने कहा कि अयोध्या से राम जानकी मार्ग को पूरा किया जा रहा है। अय़ोध्या से जनकपुरी की कनेक्टिविटी होगी। अयोध्या में बड़ा हवाईअड्डा बनाएंगे।
 

Related Story

तीखे बयान