सोमवार, 16 दिसम्बर 2019 | समय 12:52 Hrs(IST)

क्या शरद परिवार ने अजित को माफ कर दिया ? रोहित पवार ने दिया बड़ा बयान

By LSChunav | Publish Date: 11/27/2019 12:14:43 PM
क्या शरद परिवार ने अजित को माफ कर दिया ? रोहित पवार ने दिया बड़ा बयान

अजित पवार ने मंगलवार देर रात अपने चाचा और राकांपा के दिग्गज नेता शरद पवार से मुलाकात की थी। अजित के महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए भाजपा से हाथ मिलाने और फिर इस्तीफा देने के बाद यह शरद पवार से पहली मुलाकात थी।

मुंबई। राकांपा विधायक रोहित पवार ने बुधवार को कहा कि उन्हें भरोसा था कि उनके चाचा अजित पवार पार्टी में लौट आएंगे और उन्हें खुशी है कि अजित पवार ने पार्टी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की। उन्होंने यह भी कहा कि पवार परिवार ‘‘एकजुट’’ है और हमेशा रहेगा। अजित पवार ने मंगलवार देर रात अपने चाचा और राकांपा के दिग्गज नेता शरद पवार से मुलाकात की थी। अजित के महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए भाजपा से हाथ मिलाने और फिर इस्तीफा देने के बाद यह शरद पवार से पहली मुलाकात थी।

इसे भी पढ़ें: उद्धव ठाकरे ने पत्नी रश्मी के साथ राज्यपाल से की मुलाकात, कल लेंगे CM पद की शपथ

शरद पवार के बड़े भाई अप्पासाहेब पवार के पोते रोहित पवार ने एक समाचार चैनल से कहा, ‘‘मैं भरोसा नहीं कर पाया कि यह कैसे हुआ। एक कार्यकर्ता के तौर पर मुझे इसकी विस्तृत जानकारी नहीं है। परिवार के सदस्य के तौर पर कुछ कशमकश थी, मैं समझ नहीं सका कि क्या हो रहा है।’’ उनसे पूछा गया था कि भाजपा के साथ हाथ मिलाने के बाद अजित पवार के उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर उन्हें कैसा लगा था।

रोहित पवार ने कहा, ‘‘लेकिन हमें उनकी वापसी का पूरा यकीन था। हम दादा को बहुत अच्छी तरह जानते हैं।’’ अजित पवार की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि वह बहुत सक्षम प्रशासक हैं और शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस ‘महाराष्ट्र विकास अघाड़ी’ के लिए महत्वपूर्ण है जो राज्य में सरकार बनाएगी। उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए मुझे लगा कि परिवार के सदस्य और राकांपा कार्यकर्ता के तौर पर जब दादा कल साहेब (शरद पवार) से मिले तो मुझे खुशी हुई।’’

इसे भी पढ़ें: शरद पवार से मुलाकात पर बोले अजित, अपने नेता से मिलना मेरा अधिकार है

रोहित पवार ने भाजपा पर अन्य दलों से नेताओं की खरीद-फरोख्त का हथकंडा अपनाने का भी आरोप लगाया। रोहित ने कहा, ‘‘उन्होंने इस मामले में भी कुछ हद तक इस शैली (हथकंडे) का इस्तेमाल किया। दादा को यह पसंद नहीं आया होगा और फिर उन्होंने साहेब से मुलाकात की। मुझे उम्मीद है कि हम उनके (अजित पवार) मार्गदर्शन में जल्द ही लोगों की सेवा करेंगे।’’


Related Story

तीखे बयान