शनिवार, 23 मार्च 2019 | समय 08:54 Hrs(IST)

प्रधानमंत्री ने की दीन दयाल की पुण्यतिथि को समर्पण दिवस के रूप में मनाने की अपील

By LSChunav | Publish Date: Feb 11 2019 12:02PM
प्रधानमंत्री ने की दीन दयाल की पुण्यतिथि को समर्पण दिवस के रूप में मनाने की अपील

प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर नमो ऐप के माध्यम से चंदे के रूप में पार्टी को 1000 रूपये दिए। उन्होंने लोगों एवं शुभचिंतकों से पार्टी को चंदा देने की अपील की।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पंडित दीन दयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि को राजनीति एवं सार्वजनिक जीवन में सुचिता को बढावा देने के संकल्प के साथ समर्पण दिवस के रूप में मनाने की अपील की है। मोदी ने सोमवार को ट्वीट किया कि दीन दयाल उपाध्याय सार्वजनिक जीवन में सुचिता के प्रवर्तक थे। आज उनकी पुण्यतिथि पर भाजपा ने समर्पण दिवस के रूप में अभियान शुरू किया है, जिसका मकसद राजनीति में पारदर्शिता एवं साफ सुथरे धन के उपयोग को बढ़ावा देना है।

 
प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर नमो ऐप के माध्यम से चंदे के रूप में पार्टी को 1000 रूपये दिए। उन्होंने लोगों एवं शुभचिंतकों से पार्टी को चंदा देने की अपील की। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘मैं आप सभी से पार्टी के लिए दान देने की अपील करता हूं। नमो ऐप के माध्यम से ऐसा करना आसान है। मैंने भी अपना योगदान दिया।’’ प्रधानमंत्री ने एक अन्य ट्वीट में दीन दयाल उपाध्याय को श्रद्धांजलि देते हुए कहा, ‘‘पंडित दीन दयाल उपाध्याय जी को उनकी पुण्यतिथि पर याद कर रहा हूं। उन्होंने ‘एकात्म मानवतावाद’ पर जोर दिया जिससे लाखों लोगों को प्रेरणा मिली।’’ उन्होंने कहा, ‘‘उन्हें एक असाधारण संगठनकर्ता के रूप में जाना जाता है जिन्होंने कई देशभक्त एवं मेहनती कार्यकर्ताओं का मार्गनिर्देशन किया। उनका जीवन राष्ट्र निर्माण के लिए समर्पित था।’’
 
 
भाजपा प्रमुख अमित शाह ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘मैंने आज समर्पण दिवस के अवसर पर नमो ऐप के माध्यम से संगठन को अपना डोनेशन दिया।’’ शाह ने कहा, मैं सभी कार्यकर्ताओं से अपील करता हूँ कि आप भी नमो ऐप के माध्यम से पार्टी को पांच रूपए से लेकर 1000 रुपये तक दान दे कर सकते हैं। उन्होंने भी 1000 रुपये चंदा दिया। उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘दिल्ली के पं. दीनदयाल उपाध्याय पार्क में हम सबके प्रेरणास्त्रोत आदरणीय दीनदयाल जी के बलिदान दिवस पर उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की।’’

Related Story


तीखे बयान