बीते पांच साल ईमानदार प्रयास के थे, अगला पांच साल नतीजों का होगा- मोदी

LSChunav     Apr 26, 2019
शेयर करें:   
बीते पांच साल ईमानदार प्रयास के थे, अगला पांच साल नतीजों का होगा- मोदी

उन्होंने कहा, नया भारत आतंकवाद को मुंहतोड़ जवाब देता है। अपने संसदीय क्षेत्र में शक्ति प्रदर्शन के बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि उनकी सरकार आतंकवाद के खिलाफ प्रभावी तरीके से निपटी है।

वाराणसी (उत्तर प्रदेश)। अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी से नामांकन दाखिल करने से एक दिन पहले बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बीते पांच साल उनकी सरकार के ईमानदार प्रयासों के थे और अगला पांच साल इसके नतीजों का होगा। विशाल रोड शो और ‘गंगा आरती’ के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने राष्ट्रीय सुरक्षा के विषय पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा, नया भारत आतंकवाद को मुंहतोड़ जवाब देता है। अपने संसदीय क्षेत्र में शक्ति प्रदर्शन के बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि उनकी सरकार आतंकवाद के खिलाफ प्रभावी तरीके से निपटी है।

इसे भी पढ़ें: नरेंद्र मोदी ने बनारस में कार्यकर्ताओं को किया संबोधित कहा, देश में पहली बार सत्ता समर्थक लहर

पुलवामा आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने के बाद किए गए बालाकोट एयर स्ट्राइक का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने पुलवामा में हमारे 40 जवानों को शहीद किया, हमने उनके इलाके में 42 आतंकवादियों को मार गिराया।’’ उन्होंने कहा कि उनकी सरकार के काम करने का यही तरीका है। मोदी ने कहा कि विश्व अब आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत का समर्थन कर रहा है। मोदी ने हाल में श्रीलंका में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों का उल्लेख करते हुए कहा कि ईस्टर पर प्रार्थना कर रहे बेकसूर लोगों ने घटना में अपनी जानें गंवायी। प्रधानमंत्री शुक्रवार को वाराणसी लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल करेंगे। इस सीट से वह दूसरी बार चुनाव लड़ रहे हैं।
मोदी ने कहा कि वह दावा नहीं करेंगे कि उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र के लिये जो कुछ भी सोचा था, उसे बीते पांच साल में पूरा कर चुके हैं। लेकिन विकास की गति और स्थिति सही दिशा में है। उन्होंने कहा कि वह अपनी सरकार के पांच साल के काम के बारे में पूरी जानकारी दे रहे हैं लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं जो ‘‘70 साल’’ सत्ता में रहे लेकिन उसका लेखा-जोखा देने को तैयार नहीं हैं। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार के पांच साल में ईमानदारी से प्रयास किए गए और अगला पांच साल इसके परिणामों के बारे में होगा। उन्होंने वाराणसी से फिर से नामांकन दाखिल करने के लिये यहां मौजूद जनसमूह से ‘‘अनुमति’’ ली और कहा कि यह भगवान विश्वनाथ की कृपा है कि उन्हें काशी के लोगों की सेवा का अवसर मिला है। इससे पहले मोदी के रोड शो में विशाल जनसमूह उमड़ा। मंदिरों की नगरी में मोदी के साथ भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भाजपा के अन्य वरिष्ठ नेता भी थे।