शुक्रवार, 5 जून 2020 | समय 21:30 Hrs(IST)

फोन टैपिंग मामले में राउत ने दिया बड़ा बयान, बोले- ...फिर भी सरकार हमने ही बनाई

By LSChunav | Publish Date: 1/24/2020 4:28:29 PM
फोन टैपिंग मामले में राउत ने दिया बड़ा बयान, बोले- ...फिर भी सरकार हमने ही बनाई

शिवसेना सांसद संजय राउत ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा के एक नेता ने उन्हें बताया है कि महाराष्ट्र की पूर्ववर्ती देवेंद्र फडणवीस सरकार ने उनका फोन टैप करवाया था। उन्होंने कहा कि फोन टैप करवाने के बावजूद महाराष्ट्र में सरकार तो हमने ही बनाई।

मुंबई। शिवसेना सांसद संजय राउत ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा के एक नेता ने उन्हें बताया है कि महाराष्ट्र की पूर्ववर्ती देवेंद्र फडणवीस सरकार ने उनका फोन टैप करवाया था। राकांपा के इस आरोप पर कि केंद्र ने पार्टी प्रमुख शरद पवार के नयी दिल्ली स्थित आधिकारिक आवास की सुरक्षा वापस ले ली है, राउत ने कहा कि ऐसा इसलिए किया गया होगा क्योंकि राज्य में शिवसेना के नेतृत्व में सरकार गठन में पवार की भूमिका रही थी। उन्होंने कहा कि यहां तक कि गांधी परिवार को प्रदत्त एसपीजी सुरक्षा भी हाल में वापस ले ली गई।

इसे भी पढ़ें: संजय राउत बोले, सावरकर के बाद बाल ठाकरे ने हिंदुत्व की लौ जलाई

राउत ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘भाजपा के एक नेता ने मुझे बताया कि मेरे फोन को टैप किया जा रहा था। मेरा कहना है कि मैं क्या कह रहा हूं अगर यह कोई सुनना चाहता है तो मैं इसका स्वागत करता हूं। मैं बाबा साहेब का चेला हूं, जो करता हूं खुलेआम करता हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘फोन टैप करवाने के बावजूद महाराष्ट्र में सरकार तो हमने ही बनाई।’’ एक दिन पहले राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने आरोप लगाया था कि फडणवीस सरकार ने सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर विपक्षी नेताओं के फोन टैप करवाए थे। महाराष्ट्र विकास अघाड़ी सरकार के गठन के वक्त तो खासतौर पर ऐसा किया गया था।

इसे भी पढ़ें: उद्धव ठाकरे ‘राम नगरी’ के रास्ते तलाश रहे 2024 की संभावनाओं के द्वार

देशमुख ने कहा,‘‘महाराष्ट्र पुलिस की साइबर सेल को पिछली सरकार के दौरान मिली जासूसी/ फोन टैपिंग की विभिन्न शिकायतों की जांच करने को कहा गया है।” कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भी पहले आरोप लगाया था कि फडणवीस सरकार ने विपक्षी नेताओं के फोन टैप करवाए हैं। उन्होंने फोन-टैपिंग के मामले में अधिकारियों की भूमिका पर भी सवाल उठाए थे।


Related Story

तीखे बयान