गुरुवार, 20 जून 2019 | समय 11:44 Hrs(IST)

राजनाथ ने ‘न्याय’ योजना के जरिये गरीबी मिटाने के राहुल गांधी के वादे पर किया तंज

By LSChunav | Publish Date: May 11 2019 7:17PM
राजनाथ ने ‘न्याय’ योजना के जरिये गरीबी मिटाने के राहुल गांधी के वादे पर किया तंज

सिंह ने कहा कि सरकार भ्रष्टाचार पर काबू करने में समर्थ रही है क्योंकि विभिन्न योजनाओं के तहत लाभार्थियों के बैंक खातों में सीधा पैसा जाता है।

डेहरी-ऑन-सोन (रोहतास)। केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ‘न्याय’ योजना के जरिये गरीबी मिटाने संबंधी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के वादे पर तंज कसते हुए शनिवार को कहा कि सबसे पुरानी पार्टी जवाहरलाल नेहरू से लेकर इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के दिनों से गरीबी खत्म करने के नाम पर देशवासियों को ‘‘मूर्ख’’ बना रही है। सिंह ने कहा कि वहीं दूसरी ओर नरेन्द्र मोदी सरकार ने गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों को बाहर निकालने के अपने संकल्प को प्रदर्शित किया है। उन्होंने दावा किया कि अगले कुछ वर्षों में कोई भी परिवार गरीबी रेखा से नीचे नहीं रहेगा।

सीआरपीएफ के 40 जवानों के बलिदान का बदला लेने के लिए पाकिस्तान में बालाकोट एयर स्ट्राइक में मारे गये आतंकवादियों की संख्या जानने वाले लोगों को जवाब देते हुए सिंह ने एक विदेशी पत्रकार की खबर का जिक्र किया जिसमें दावा किया गया है कि आतंकवादी शिविरों पर भारतीय वायुसेना के अभियान में 170 आतंकवादी मारे गये थे। उन्होंने गांधी की प्रस्तावित ‘न्याय’ योजना पर तंज करते हुए कहा, ‘‘कांग्रेस केन्द्र की सत्ता में 55 वर्ष तक रही लेकिन प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू से लेकर इंदिरा गांधी और राजीव गांधी की इस पार्टी ने गरीबी हटाने के नाम पर लोगों को मूर्ख बनाया है। उन्होंने कहा कि यहां तक कि राजीव गांधी ने स्वीकार किया था कि गरीब लोगों तक 100 पैसे में से केवल 15 पैसे पहुंचते है।’’
भाजपा के वरिष्ठ नेता ने काराकाट लोकसभा सीट पर जद (यू) उम्मीदवार महाबली सिंह और डेहरी विधानसभा सीट के उपचुनाव के लिए भाजपा प्रत्याशी सत्यनारायण सिंह के समर्थन में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि राहुल गांधी और उनकी पार्टी राजद्रोह कानून को समाप्त करने के बारे में बात करती है , लेकिन हम इस कानून को और भी अधिक सख्त बनाएंगे ताकि कोई भी ऐसे कृत्य में लिप्त होने का साहस न करे जो राष्ट्रीय अखंडता के लिए खतरा हो। सिंह ने कहा कि सरकार भ्रष्टाचार पर काबू करने में समर्थ रही है क्योंकि विभिन्न योजनाओं के तहत लाभार्थियों के बैंक खातों में सीधा पैसा जाता है। उन्होंने कहा कि 1951 में पहले आम चुनाव के बाद से 2019 चुनाव दूसरा मौका है जब महंगाई कोई मुद्दा नहीं है।
 

Related Story

तीखे बयान