शुक्रवार, 5 जून 2020 | समय 21:53 Hrs(IST)

राहुल के चुनावी वादों को मिलिंद देवड़ा ने सोनिया को दिलाया याद, जानें क्या कुछ कहा ?

By LSChunav | Publish Date: 1/28/2020 4:10:00 PM
राहुल के चुनावी वादों को मिलिंद देवड़ा ने सोनिया को दिलाया याद, जानें क्या कुछ कहा ?

कांग्रेस नेता मिलिंद देवरा ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से महाराष्ट्र विकास अघाडी शासित राज्य में एक तंत्र स्थापित करने का अनुरोध किया है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि प्रदेश सरकार लोगों से किए गए कांग्रेस के चुनावी वादों को पूरा कर सके।

मुंबई। कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक पत्र लिख कर मुंबई के झुग्गीवासियों को 500 वर्ग फुट का मकान आवंटित करने के राहुल गांधी के 2019 के चुनावी वादे के, महाराष्ट्र की नई सरकार के तहत प्रभावी रूप से क्रियान्वयन किए जाने की दिशा में आगे नहीं बढ़ पाने पर चिंता जाहिर की है। देवड़ा ने सोनिया गांधी से महाराष्ट्र विकास अघाडी (शिवसेना, राकांपा, कांग्रेस) शासित राज्य में एक तंत्र स्थापित करने का अनुरोध किया है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि प्रदेश सरकार लोगों से किए गए कांग्रेस के चुनावी वादों को पूरा कर सके। 

इसे भी पढ़ें: सोनिया गांधी ने शिवसेना से क्या मांगा था आश्वासन ? अशोक चव्हाण ने खोला राज

देवड़ा ने 24 जनवरी को लिखे अपने पत्र में कहा है कि उनकी सलाह पर मार्च 2019 में तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक रैली में कहा था कि यदि उनकी पार्टी महाराष्ट्र में सत्ता में आएगी तो झुग्गी एवं खस्ताहाल भवन पुनर्वास योजनाओं के तहत 500 वर्ग फुट का मकान आवंटित किया जाएगा। देवड़ा ने कहा, ‘‘इस वादे को बाद में तीनों पार्टियों द्वारा तैयार किए गए साझा न्यूनतम कार्यक्रम में शामिल कर दिया गया।’’ फिलहाल, शहर में झुग्गी पुनर्वास परियोजनाओं के तहत 269 वर्ग फुट मकान मुहैया किया जा रहा है। 

देवड़ा ने 1984 से मुंबई में जरूरतमंदों को वहनीय मकान देने के अपने दिवंगत पिता मुरली देवड़ा द्वारा शुरू की गई पहल को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से मिले समर्थन की याद दिलाई। उन्होंने कहा, ‘‘मुंबई के मतदाताओं ने तब से कांग्रेस पर विश्वास किया और सबसे निचले तबके के उत्थान के प्रति उसकी प्रतिबद्धता का उसे इनाम दिया।’’ देवड़ा ने कहा, ‘‘राहुल जी ने मुंबईवासियों से उस समय वादा किया था जब वह कांग्रेस अध्यक्ष थे। यह मुझे चिंतित करता है कि इस तरह की एक अहम नीतिगत पहल क्रियान्वयन की दिशा में प्रभावी रूप से आगे नहीं बढ़ी है।’’

इसे भी पढ़ें: सोनिया गांधी से मिले झाविमो के दो बागी विधायक, जल्द हो सकते हैं कांग्रेस में शामिल

उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए मैं आपसे महाराष्ट्र में कांग्रेस शासित राज्यों की तर्ज पर एक प्रभावी तंत्र स्थापित करने पर विचार करने का अनुरोध करता हूं, ताकि राज्य सरकार महाराष्ट्र के मतदाताओं से कांग्रेस द्वारा किए गए वादों को तेजी से पूरा कर सके।’’ उन्होंने कहा कि वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के सहयोगी दल शिवसेना और राकांपा ने अपने कार्यक्रमों और चुनावी वादों को पूरा करने के लिए पिछले 50 दिनों के दौरान काम किया है। देवड़ा ने कांग्रेस शासित राज्यों में चुनाव घोषणापत्र क्रियान्वयन समितियां गठित करने को लेकर भी गांधी को बधाई दी। उन्होंने कहा, ‘‘यह एक प्रगतिशील फैसला है और यह हमारी सरकारों को शासन एवं जवाबदेही के उच्चतम मानदंडों को कायम रखने के लिए प्रोत्साहित करेगा।’’

इसे भी देखें : क्या सच में टैप हुआ है पवार और ठाकरे का फोन ? क्या कहता है कानून


Related Story

तीखे बयान