सोमवार, 16 दिसम्बर 2019 | समय 14:27 Hrs(IST)

अमित शाह का राहुल गांधी को चैलेंज, कहा- अपने 55 साल और हमारे पांच साल के शासन का हिसाब लेकर मैदान में आ जाओ

By अंकित सिंह | LSChunav | Publish Date: 12/2/2019 2:17:50 PM
अमित शाह का राहुल गांधी को चैलेंज, कहा- अपने 55 साल और हमारे पांच साल के शासन का हिसाब लेकर मैदान में आ जाओ

ओबीसी समाज के लिए हमने तय किया है कि जैसे ही भाजपा सरकार बनती है वैसे ही आदिवासियों, दलितों को आरक्षण कम किए बिना ओबीसी समाज के आरक्षण को बढ़ाने के लिए हम एक कमेटी बनाने की तैयारी कर चुके हैं।

केन्द्रीय गृह मंत्री एवं भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने झारखंड के चक्रधरपुर में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आपका वोट तय करेगा कि झारखंड विकास के पथ पर चलेगा या नक्सलवाद के। शाह ने दावा किया कि नरेंद्र मोदी और रघुबर दास के नतृत्व में राज्य का विकास हो रहा है। 

 
शाह ने कहा कि आदिवासियों का फायदा उठाने वाली, करोड़ों रुपए का भ्रष्टाचार करने वाली और चुनाव के टिकट बेचने-खरीदने वाली पार्टियां झारखंड के विकास के लिए कभी काम नहीं कर सकतीं है। उन्होंने कहा कि पांच साल के अंदर नरेन्द्र मोदी सरकार और रघुवर सरकार ने झारखंड के अंदर से नक्सलवाद को उखाड़ के यहां विकास का रास्ता प्रशस्त करने का काम किया है। शाह ने कहा कि जो पार्टियां टिकट बांटने में खरीद-फरोख्त करती हो, आदिवासियों का शोषण करती हो, झारखंड की रचना की विरोधी हों और अरबों-खरबों का भ्रष्टाचार करती हों। उन पार्टियों को वोट देकर झारखंड का विकास नहीं हो सकता। 
गृह मंत्री ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी झारखंड में हैं, मैं उनसे कांग्रेस की तरफ से पिछले 55 वर्षों में किए गए विकास कार्यों का ब्योरा जानना चाहता हूं, हम अपने पांच वर्षों के लेखा-जोखा के साथ यहां हैं। जब झारखंड राज्य की रचना के लिए आंदोलन चल रहा था तो उस समय यहां के युवाओं पर कांग्रेस पार्टी ने गोलियां और डंडे चलवाये थे। कांग्रेस झारखंड की रचना का विरोध करती थी और आज हेमंत सोरेन उसी कांग्रेस पार्टी की गोद में बैठकर मुख्यमंत्री बनने के लिए निकले हैं। उनका उद्देश्य केवल सत्ता प्राप्त करना है और भाजपा का उद्देश्य झारखंड को विकास के रास्ते पर ले जाना है। ओबीसी समाज के लिए हमने तय किया है कि जैसे ही भाजपा सरकार बनती है वैसे ही आदिवासियों, दलितों को आरक्षण कम किए बिना ओबीसी समाज के आरक्षण को बढ़ाने के लिए हम एक कमेटी बनाने की तैयारी कर चुके हैं।
 

Related Story

तीखे बयान