शुक्रवार, 23 अगस्त 2019 | समय 17:30 Hrs(IST)

PM मोदी ने गुरुवायुर में कहा, वाराणसी जितना ही मुझे प्रिय है केरल

By LSChunav | Publish Date: Jun 8 2019 6:52PM
PM मोदी ने गुरुवायुर में कहा, वाराणसी जितना ही मुझे प्रिय है केरल

अपनी पार्टी को चुनने के लिये उन्होंने मतदाताओं का शुक्रिया अदा किया और कहा, ‘‘राजनीतिक पार्टियां और राजनीतिक पंडित लोगों के मूड को भांप नहीं सके।

गुरुवायूर (केरल)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा में भरोसा जताने के लिए मतदाताओं का शुक्रिया अदा करते हुए शनिवार को कहा कि राजनीतिक दल और राजनीतिक पंडित लोकसभा चुनाव से पहले जनता के मूड को भांपने में नाकाम रहे। लोकसभा चुनाव में पार्टी प्रचंड जनादेश के साथ सत्ता में आयी है। लगातार दूसरी बार लोकसभा चुनाव जीतने के बाद अपने पहले सार्वजनिक कार्यक्रम में मोदी ने कहा कि राज्य से (भाजपा का) कोई सांसद नहीं चुने जाने के बावजूद उन्होंने अपनी पहली यात्रा के लिये केरल को चुना क्योंकि यह भी उन्हें उत्तर प्रदेश में अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी जितना ही प्रिय है। हाल में सम्पन्न लोकसभा चुनाव को ‘‘लोकतंत्र का पर्व’’ बताते हुए मोदी ने केरल की जनता की प्रशंसा की और यहां के मतदाताओं के योगदान के लिये उनका धन्यवाद किया। भाजपा की केरल इकाई की तरफ से आयोजित ‘अभिनंदन सभा’ में उन्होंने कहा कि देश ने देखा है कि चुनाव में ‘‘जनता जनार्दन होती है।’’ इससे पहले उन्होंने यहां भगवान कृष्ण के मंदिर में पूजा- अर्चना की।

 
अपनी पार्टी को चुनने के लिये उन्होंने मतदाताओं का शुक्रिया अदा किया और कहा, ‘‘राजनीतिक पार्टियां और राजनीतिक पंडित लोगों के मूड को भांप नहीं सके। वे (चुनावी) सर्वेक्षण करने में लगे रहे और जनता ने भाजपा को अपना मजबूत जनादेश दे दिया।’’ उन्होंने कहा हालिया चुनाव ने साबित किया है कि लोगों ने ‘‘नकारात्मकता’’ को खारिज किया और ‘‘सकारात्मकता’’ को स्वीकार किया है। मोदी ने कहा, ‘‘2019 के लोकसभा चुनाव में सकारात्मकता की जीत हुई और नकारात्मकता को खारिज कर दिया गया। इस भावना के साथ हम सभी मिलकर नये भारत का निर्माण करें।’’ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा मोदी पर फिर से प्रहार करने के सिलसिले में उनका यह बयान आया है। राहुल ने मोदी और भाजपा पर देश में ‘‘घृणा और असहिष्णुता’’ फैलाने के आरोप लगाए। गांधी ने वायनाड लोकसभा क्षेत्र में मतदाताओं का शुक्रिया अदा करने के लिए शुक्रवार को आयोजित रोड शो में कहा, ‘‘मोदी के पास पैसा होगा। उनके साथ मीडिया भी होगी... उनके साथ उद्योगपति दोस्त भी होंगे लेकिन भाजपा द्वारा फैलाई जा रही असहिष्णुता के खिलाफ कांग्रेस लड़ाई जारी रखेगी।’’
लोकसभा चुनाव के बाद अपनी पहली यात्रा के लिये केरल को चुनने पर मोदी ने कहा कि कुछ लोग हैरान हो रहे होंगे कि यहां तो भाजपा का ‘‘खाता भी नहीं खुला’’, फिर भी उन्होंने दक्षिणी राज्य को क्यों चुना। उन्होंने कहा, एक चुना हुआ नेता सर्वमान्य होता है। मोदी ने कहा, ‘‘लोकतंत्र में चुनाव का अपना स्थान होता है और यह जीतने वाले की जिम्मेदारी होती है कि वह 130 करोड़ लोगों का ख्याल रखे। जिन लोगों ने हमें जिताया है या जिन लोगों ने ऐसा नहीं किया है, दोनों हमारे अपने (लोग) हैं। केरल वाराणसी जितना ही मुझे प्रिय है।’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा सिर्फ चुनावी राजनीति के लिये काम नहीं करती, बल्कि वह देश निर्माण के लिये प्रतिबद्ध है और यह सुनिश्चित करना चाहती है कि अंतरराष्ट्रीय जगत में भारत को उसका गौरवपूर्ण स्थान मिले। मोदी ने शनिवार को केरल के दौरे में कहा कि लोगों को आश्चर्य होगा कि संसद में भाजपा का यहां से खाता नहीं खुलने के बावजूद वह इस दक्षिणी राज्य के दौरे पर क्यों आए। उन्होंने कहा, ‘‘मैं केरल के लोगों के प्रति आभार प्रकट करने के लिए यहां आया। हां, हमारी पार्टी को यहां से एक भी सीट नहीं मिली फिर मैं इस राज्य की सेवा करूंगा और यहां के लोगों के साथ अपने संबंध मजबूत करूंगा।’’ मोदी ने राज्य के दौरे में केरल का परंपरागत पोशाक पहना। उन्होंने कहा कि यह निर्वाचित नेता सभी के लिए एक समान होता है।
 

Related Story

तीखे बयान