मंगलवार, 18 फरवरी 2020 | समय 00:03 Hrs(IST)

CAA का विरोध कर रहे लोग देशद्रोही नहीं: बंबई हाई कोर्ट

By अनुराग गुप्ता | LSChunav | Publish Date: 2/15/2020 12:20:19 PM
CAA का विरोध कर रहे लोग देशद्रोही नहीं: बंबई हाई कोर्ट

सीएए के खिलाफ दायर एक याचिका की सुनवाई में बंबई हाई कोर्ट ने कहा कि शांतिपूर्ण ढंग से किसी भी कानून का विरोध कर रहे लोगों को राष्ट्रविरोधी या देशद्रोही नहीं कहा जा सकता है। हाई कोर्ट ने यह टिप्पणी एक याचिका की सुनवाई में दी जिसमें सीएए के खिलाफ आंदोलन के लिए पुलिस ने अनुमति प्रदान नहीं की थी।

मुंबई। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ दायर एक याचिका की सुनवाई में बंबई हाई कोर्ट ने गुरुवार को कहा कि शांतिपूर्ण ढंग से किसी भी कानून का विरोध कर रहे लोगों को राष्ट्रविरोधी या देशद्रोही नहीं कहा जा सकता है। हाई कोर्ट ने यह टिप्पणी एक याचिका की सुनवाई में दी जिसमें सीएए के खिलाफ आंदोलन के लिए पुलिस ने अनुमति प्रदान नहीं की थी।

इसे भी पढ़ें: सपा ने CAA के खिलाफ प्रदर्शनों में हुई मौतों की न्यायिक जांच की मांग की

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक बंबई हाई कोर्ट की औरंगाबाद बेंच ने कहा कि यदि जनता किसी कानून का विरोध कर रही है या करना चाहती है तो उन्हें इस वजह से राष्ट्रविरोधी या देशद्रोही नहीं कहा जा सकता है। यह नागरिकता संशोधन कानून की वजह से सरकार के खिलाफ लोगों का प्रदर्शन है।

आपको बता दें कि पुलिस ने अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) के आदेशों का हवाला देते हुए प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी थी। सुनवाई के दौरान बेंच ने बीड जिले के एडीएम और माजरगांव सिटी पुलिस के दो आदेशों को भी निरस्त कर दिया है।

इसे भी पढ़ें: डॉ कफील की जेल से नहीं हो सकी रिहाई, CAA के खिलाफ बयान देने पर लगाया गया रासुका

इसी के साथ बेंच ने कहा कि ऐसे ही अहिंसक प्रदर्शनों की वजह से भारत को स्वतंत्रता मिली है और अहिंसा के रास्ते को आज तक लोग मानते आ रहे हैं। बेंच ने आगे कहा कि हम खुशनसीब हैं कि देश के ज्यादातर लोग आज भी अहिंसा में विश्वास रखते हैं।

इसे भी देखें: भूख हड़ताल पर बैठे जामिया के छात्रों ने क्या कहा


Related Story

तीखे बयान