शुक्रवार, 20 सितम्बर 2019 | समय 05:13 Hrs(IST)

पलानीस्वामी ने नकारात्मक प्रचार के लिए स्टालिन पर साधा निशाना

By LSChunav | Publish Date: Apr 5 2019 5:07PM
पलानीस्वामी ने नकारात्मक प्रचार के लिए स्टालिन पर साधा निशाना

अन्नाद्रमुक राज्य में राजग की प्रमुख गठबंधन सहयोगी है। इसके अन्य घटक दलों में भाजपा, डीएमडीके, पीएमके एवं अन्य दल शामिल हैं।

विरुधुनगर। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एवं अन्नाद्रमुक के शीर्ष नेता के. पलानीस्वामी ने शुक्रवार को द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन पर उन पर और राजग नेताओं पर निशाना साधने वाले उनके नकारात्मक अभियान के लिए हमला बोला और कहा कि विपक्षी दल ने सत्ता में रहते हुए कोई कल्याणकारी गतिविधि नहीं चलाई। अन्नाद्रमुक राज्य में राजग की प्रमुख गठबंधन सहयोगी है। इसके अन्य घटक दलों में भाजपा, डीएमडीके, पीएमके एवं अन्य दल शामिल हैं। वहीं द्रमुक सेक्युलर प्रोग्रेसिव अलायंस (एसपीए) का नेतृत्व कर रही है जिसके घटक दलों में कांग्रेस और वाम दल शामिल हैं।

इसे भी पढ़ें: पलानीस्वामी ने अभिनंदन के लिए ‘परम वीर चक्र’ की मांग की

डीएमडीके के आर अजगरसामी के लिए यहां प्रचार करते हुए पलानीस्वामी ने अपना आरोप दोहराया कि स्टालिन अन्नाद्रमुक को तोड़ने और सरकार को गिराने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने अपना यह रुख दोहराया कि देश को जरुरत है कि मजबूत और दृढ़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लगातार दूसरा कार्यकाल मिले। उन्होंने कहा कि स्टालिन सार्वजनिक परियोजनाओं के बारे में बोलकर वोट नहीं मांग रहे हैं बल्कि मुझ पर और हमारे गठबंधन की पार्टियों के नेताओं पर केवल निशाना साध रहे हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि जब वे सत्ता में थे जब उन्होंने कोई कल्याणकारी गतिविधियां क्रियान्वित नहीं कीं।

द्रमुक राज्य में 2006 से 2011 के बीच सत्ता में थी। पलानीस्वामी ने स्टालिन के खिलाफ अपना हमला तीखा करते हुए कहा कि द्रमुक ने चुनाव के समय किया गया कोई भी वादा पूरा नहीं किया और इसलिए नेता हमारी आलोचना करके वोट मांग रहे हैं। उन्होंने स्टालिन से द्रमुक के एक नेता के एक सहयोगी के यहां से आयकर विभाग के अधिकारियों द्वारा नकदी बरामद करने पर प्रतिक्रिया मांगी। आयकर अधिकारियों ने गत सोमवार को एक सीमेंट गोदाम से 11.53 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की थी।

इसे भी पढ़ें: मोदी ने नरसिंह अवतार लेकर आतंकवादियों का खात्मा कियाः तमिलनाडु CM

पलानीस्वामी ने आरोप लगाया कि स्टालिन रिश्वत देकर मतदाताओं को अपने पक्ष में करने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन ऐसा नहीं होगा। उन्होंने कहा कि वह बार-बार अन्नाद्रमुक को तोड़ने और सरकार गिराने का प्रयास कर रहे हैं। यह पार्टी एक बड़ी काडर आधारित पार्टी है। इसे कोई नुकसान नहीं पहुंचा सकता। पलानीस्वामी ने एमडीएमके संस्थापक वाइको पर एसपीए में शामिल होने को लेकर निशाना साधा और कहा कि उन्होंने एक बार कहा था कि द्रमुक एक कंपनी है, एक पार्टी बिल्कुल भी नहीं। तमिलनाडु की लोकसभा की 39 सीटों के लिए चुनाव 18 अप्रैल को होने वाला है। 


Related Story

तीखे बयान