शनिवार, 25 मई 2019 | समय 08:29 Hrs(IST)

नाथूराम गोडसे पर कमल हासन के बयान का ओवैसी ने किया समर्थन

By LSChunav | Publish Date: May 14 2019 8:21PM
नाथूराम गोडसे पर कमल हासन के बयान का ओवैसी ने किया समर्थन

कमल हासन ने कहा है कि ‘‘भारत का पहला चरमपंथी एक हिंदू - नाथूराम गोडसे - था।’’ अभिनेता से नेता बने हासन के इस बयान पर विवाद पैदा हो गया।

हैदराबाद। एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे पर मक्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक एवं जानेमाने अभिनेता कमल हासन की ओर से दिए गए विवादित बयान का समर्थन करते हुए मंगलवार को कहा कि राष्ट्रपिता के हत्यारे को आतंकवादी नहीं कहें तो क्या कहें। ओवैसी ने यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘‘जिसने राष्ट्रपिता माने जाने वाले महात्मा गांधी की हत्या की, उसे हम क्या कहें? हम उसे महात्मा कहें या राक्षस कहें? उसे आतंकवादी कहें या हत्यारा कहें?’’ उन्होंने सवाल किया, ‘‘बापू की हत्या करने वाले शख्स को यदि आतंकवादी नहीं कहें तो फिर आप क्या कहेंगे?’’

कमल हासन ने कहा है कि ‘‘भारत का पहला चरमपंथी एक हिंदू - नाथूराम गोडसे - था।’’ अभिनेता से नेता बने हासन के इस बयान पर विवाद पैदा हो गया। भाजपा ने सोमवार को कहा कि एक आतंकवादी और हत्यारे में फर्क होता है। पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत राजीव गांधी द्वारा कई साल पहले आईएनएस विराट नाम के युद्धपोत पर सफर के बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विवादित बयान की आलोचना के बारे में पूछे जाने पर ओवैसी ने सवाल किया कि मोदी का इंटरव्यू लेने वाले ‘कनाडाई नागरिक’ (अभिनेता अक्षय कुमार) पोत पर क्यों गए थे। उन्होंने कहा, ‘‘वह क्यों गए? कनाडाई नागरिक गए हैं। इस पर आप कुछ नहीं कहेंगे?’’
कांग्रेस की सोशल मीडिया रणनीतिकार दिव्या स्पंदन ने हाल ही में भारतीय नौसेना के युद्धपोत ‘सुमित्रा’ पर अक्षय कुमार को कथित तौर पर ले जाने के लिए पीएम मोदी की आलोचना की थी। कांग्रेस ने मोदी पर यह हमला तब बोला था जब प्रधानमंत्री ने दिवंगत राजीव गांधी पर आईएनएस विराट को परिवार के साथ छुट्टियां मनाने के लिए ‘‘निजी टैक्सी’’ की तरह इस्तेमाल करने का आरोप लगाया।
उत्तर प्रदेश और राजस्थान में सामूहिक बलात्कार की घटनाओं पर मोदी पर हमला बोलते हुए ओवैसी ने कहा कि उन्हें हापुड़ की घटना पर बोलना चाहिए, क्योंकि उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार है। ओवैसी ने कहा, ‘‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा कहां है? प्रधानमंत्री इस महिला के बारे में चिंतित क्यों नहीं हैं? वह तीन तलाक को लेकर तो बहुत चिंतित रहते हैं।’’
 

Related Story