सोमवार, 16 सितम्बर 2019 | समय 10:19 Hrs(IST)

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने अपने परिसरों को प्लास्टिक मुक्त करने का फैसला किया

By LSChunav | Publish Date: Sep 6 2019 11:37AM
सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने अपने परिसरों को प्लास्टिक मुक्त करने का फैसला किया

एक आधिकारिक आंतरिक संवाद में कहा गया, ‘‘सूचना एवं प्रसारण मंत्री (प्रकाश जावड़ेकर) ने फैसला किया है कि मंत्रालय से संबद्ध सभी (मुख्य सचिवालय एवं मीडिया इकाइयां) प्रभागों को एक बार इस्तेमाल होने वाले प्लास्टिक का उपयोग बंद कर देना चाहिए।’’

नयी दिल्ली। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने अपने तहत आने वाली इकाइयों के आधिकारिक परिसरों में एक बार इस्तेमाल होने वाले प्लास्टिक का उपयोग बंद करने का फैसला किया है। मंत्रालय अपने कर्मियों को पुन: उपयोग में आ सकने वाले कागजों एवं थैलों का प्रयोग करने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर अपने संबोधन में देशवासियों से अपील की थी कि वे एक बार इस्तेमाल होने वाले प्लास्टिक का उपयोग बंद करें।
एक आधिकारिक आंतरिक संवाद में कहा गया, ‘‘सूचना एवं प्रसारण मंत्री (प्रकाश जावड़ेकर) ने फैसला किया है कि मंत्रालय से संबद्ध सभी (मुख्य सचिवालय एवं मीडिया इकाइयां) प्रभागों को एक बार इस्तेमाल होने वाले प्लास्टिक का उपयोग बंद कर देना चाहिए।’’ इसमें कहा गया है कि स्वच्छ एवं हरित पर्यावरणीय पहल को लागू करना समय की मांग है। यह एक सामूहिक जिम्मेदारी है।
संवाद में कहा गया, ‘‘आपसे एक बार इस्तेमाल होने वाले प्लास्टिक फोल्डर, प्लास्टिक की पानी की बोतलें और इसी प्रकार की अन्य सामग्रियों का प्रयोग तत्काल बंद करने और इसके बजाए पुन: प्रयोग हो सकने वाले कागज का प्रयोग आरंभ करने/इसे बढ़ावा देने का अनुरोध किया जाता है।’’
 


Related Story

तीखे बयान