गुरुवार, 5 दिसम्बर 2019 | समय 23:32 Hrs(IST)

ममता ने EVM पर उठाये सवाल, कहा- लोकतंत्र बचाने के लिए बैलेट पेपर से हों चुनाव

By LSChunav | Publish Date: 6/4/2019 8:18:06 AM
ममता ने EVM पर उठाये सवाल, कहा- लोकतंत्र बचाने के लिए बैलेट पेपर से हों चुनाव

बनर्जी ने कहा कि तथ्यान्वेषी समिति इस बात का पता लगाएगी कि क्या मशीनें प्रोग्राम्ड थीं या नहीं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं लोकसभा चुनाव के नतीजों को जनादेश के तौर पर स्वीकार नहीं करती हूं।’’

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनाव में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के इस्तेमाल को लेकर सोमवार को सवाल उठाये और विपक्षी दलों से अपील करते हुये कहा कि वे मतपत्रों के जरिए चुनाव करवाने की मांग संयुक्त रूप से करें। बनर्जी ने कहा कि एक तथ्यान्वेषी समिति बननी चाहिये ताकि वह हाल में हुए चुनावों में इस्तेमाल ईवीएम का ब्योरा तैयार कर सके। उन्होंने पार्टी के विधायकों और राज्य के मंत्रियों से चुनावों में तृणमूल कांग्रेस की पराजय को लेकर हुई बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमें लोकतंत्र बचाना है। हम मशीन नहीं चाहते, हमारी मांग है कि कागज के मतपत्र वाले युग की वापसी हो। हम एक आंदोलन प्रारंभ करेंगे और यह बंगाल से शुरू होगा।’’

 
उन्होंने कहा, ‘‘मैं सभी 23 विपक्षी राजनीतिक दलों से कहूंगी कि वे साथ आयें और मतपत्रों की वापसी की मांग करें। अमेरिका जैसे देश में भी ईवीएम पर प्रतिबंध लगा हुआ है।’’ बनर्जी ने कहा कि तथ्यान्वेषी समिति इस बात का पता लगाएगी कि क्या मशीनें प्रोग्राम्ड थीं या नहीं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं लोकसभा चुनाव के नतीजों को जनादेश के तौर पर स्वीकार नहीं करती हूं।’’ बनर्जी ने कहा, ‘‘मैं सभी विपक्षी दलों से अपील करती हूं कि वे एक तथ्यान्वेषी समिति का गठन सुनिश्चित करें, ताकि हम इस तरह के चुनाव नतीजों के ठीक-ठीक वजह का पता लगा सकें।’’
तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने आरोप लगाया कि भाजपा ने चुनाव जीतने के लिए धन, बाहुबल, संस्थाओं, मीडिया और सरकार का इस्तेमाल किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा, 42 लोकसभा सीटों वाले इस राज्य में वाम मोर्चे के कारण 18 सीटें जीतने में सफल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘भाजपा का दावा था कि वे 23 सीटें जीतेंगे पर, वे 18 ही जीत सके..और वह भी वामदलों की वजह से। लेकिन हम (तृणकां) अपना वोट शेयर चार फीसदी बढ़ाने में सफल रहे।
 

Related Story

तीखे बयान