बुधवार, 24 जुलाई 2019 | समय 07:48 Hrs(IST)

अहमदाबाद में निकली भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा, CM रुपाणी ने की पाहिंद विधि

By LSChunav | Publish Date: Jul 4 2019 10:48AM
अहमदाबाद में निकली भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा, CM रुपाणी ने की पाहिंद विधि

यात्रा शुरू होने से पहले गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने पाहिंद विधि (सुनहरे झाड़ू से रथों के लिए रास्ता साफ करने का एक प्रतीकात्मक अनुष्ठान) की।

अहमदाबाद। गुजरात के अहमदाबाद शहर में बृहस्पतिवार को कड़ी सुरक्षा के बीच 142वीं भगवान जगन्नाथ यात्रा आरंभ हो गई। इस दौरान देवता की एक झलक पाने के लिए लाखों भक्त 18 किलोमीटर का रास्ता तय करेंगे। यात्रा शुरू होने से पहले गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने पाहिंद विधि (सुनहरे झाड़ू से रथों के लिए रास्ता साफ करने का एक प्रतीकात्मक अनुष्ठान) की। इससे पहले तड़के केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंदिर में देवताओं की ‘मंगला आरती’ में भाग लिया। भगवान जगन्नाथ, उनके भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा के रथ जमालपुर क्षेत्र में स्थित 400 वर्ष पुराने जगन्नाथ मंदिर से यात्रा के लिये रवाना किये गए।

इसे भी पढ़ें: जानिए भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा का इतिहास और महत्व

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस मौके पर लोगों को बधाई दी। उन्होंने ट्वीट किया कि रथयात्रा के इस शुभ अवसर पर सभी को शुभकामनाएं। हम भगवान जगन्नाथ से प्रार्थना करें और सभी के अच्छे स्वास्थ्य, सुख और समृद्धि के लिए उनका आशीर्वाद मांगे। जय जगन्नाथ। तीन रथों के अलावा, रथयात्रा में 19 सजे हुए हाथी, झांकी के 100 ट्रक और गायन मंडलों के 30 सदस्य शामिल हैं। हर साल आषाढ़ माह के दूसरे दिन आषाढ़ी बीज पर रथयात्रा निकाली जाती है।

इसे भी पढ़ें: रथयात्रा के दौरान भगवान स्वयं चलकर भक्तों के पास आते हैं और सभी कष्ट हरते हैं

यात्रा, सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील इलाके जैसे कि जमालपुर, कालूपुर, शाहपुर और दरियापुर से होते हुए रात लगभग 8.30 बजे मंदिर लौटेगी। पुलिस की विभिन्न इकाइयों और अर्ध सैनिक बलों के 25,000 कर्मियों को यात्रा की सुरक्षा में तैनात किया गया है। इसके अलावा सीसीटीवी और ड्रोन कैमरों का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।


Related Story

तीखे बयान