रविवार, 5 अप्रैल 2020 | समय 05:39 Hrs(IST)

दिल्ली का एक और व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित, कई कार्यक्रम रद्द

By LSChunav | Publish Date: 3/7/2020 9:38:04 AM
दिल्ली का एक और व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित, कई कार्यक्रम रद्द

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर एहतियाती उपायों के तहत देशभर में होली और महिला दिवस समारोह से संबंधित कई कार्यक्रमों को रद्द कर दिया गया है, जबकि शुक्रवार को दिल्ली के एक और व्यक्ति के वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि के साथ देश में अब तक पुष्ट मामलों की संख्या 31 हो गई है।

नयी दिल्ली। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर एहतियाती उपायों के तहत देशभर में होली और महिला दिवस समारोह से संबंधित कई कार्यक्रमों को रद्द कर दिया गया है, जबकि शुक्रवार को दिल्ली के एक और व्यक्ति के वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि के साथ देश में अब तक पुष्ट मामलों की संख्या 31 हो गई है। इस बीच, यूजीसी ने विश्वविद्यालयों से परिसरों में बड़े आयोजनों से बचने को कहा है। 

शुक्रवार दिन में, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कोविड-19 से निपटने संबंधी प्रबंधन की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों, मुख्य सचिवों, केंद्रीय मंत्रियों और संबंधित संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बैठक की और सक्रिय तत्परता के तहत संक्रमण की जांच और पृथक रखने की सुविधाओं, अलग वार्ड की व्यवस्था और प्रयोगशालाओं की आवश्यकताओं पर जोर दिया। उन्होंने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से कोरोना वायरस के बारे में फैली गलतफहमियों को दूर करने के लिए सूचना शिक्षा एवं संचार अभियान शुरू करने को कहा।

 इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस से ब्रिटेन में पहली मौत, मरीजों की संख्या 100 के पार

हर्षवर्धन ने शुक्रवार को लोकसभा को सूचित किया कि कोरोना वायरस के संक्रमण के संदेह में देश में कुल 29,607 लोगों को चिकित्सा निगरानी में रखा गया है। उन्होंने कहा, ‘‘पांच मार्च, 2020 तक के आंकड़ों के मुताबिक 29,607 लोगों को कोविड-19 के लिए बने ‘एकीकृत रोग निगरानी कार्यक्रम’ (आईडीएसपी) के तहत रखे जाने की जानकारी है।’’ हर्षवर्धन ने कहा कि चीन के वुहान शहर से पिछले महीने जिन 654 लोगों को यहां लाया गया था, उनकी करोना वायरस के संबंध में दो बार जांच की गई और दोनों बार ही रिपोर्ट नकारात्मक रही। ऐसे में इन लोगों को 17 और 18 फरवरी को छुट्टी दे दी गई।

उन्होंने कहा कि कोरोना के प्रसार पर रोक के मकसद से प्रमुख हवाईअड्डों तथा दूसरे स्थानों पर स्क्रीनिंग की प्रभावी व्यवस्था की गई है। कोरोना वायरस से प्रभावित देशों में शामिल ईरान से भारतीयों को वापस लाने के लिए वहां के अधिकारियों के साथ भारत सरकार बातचीत कर रही है। साथ ही, इस वायरस से संदिग्ध रूप से संक्रमित भारतीयों की लार के लगभग 300 नमूने लेकर तेहरान से एक विमान शुक्रवार को दिल्ली पहुंचने वाला है।

अधिकारियों ने बताया कि ईरान की महान एअर द्वारा परिचालित विमान में कोई यात्री नहीं होगा और वापसी में इस विमान से भारत में मौजूद ईरानियों को ले जाया जाएगा। ईरान में करीब 2,000 भारतीय हैं। ईरान इस वायरस से बुरी तरह से प्रभावित देशों में शामिल है। नागर विमानन सचिव प्रदीप सिंह खरोला ने शुक्रवार को कहा कि ईरान से पहली उड़ान लार के नमूने लेकर आएगी। नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हम रोजाना, हर घंटे स्थिति की निगरानी कर रहे हैं ...लार के नमूने लेकर एक उड़ान आ रही है।’’

कोरोना वायरस प्रभावित देशों से भारतीयों को वापस लाने के लिए सरकार अन्य कदमों पर गौर कर रही है। पर्यटन मंत्रालय इस साल फरवरी में ईरान से आए 450 ईरानी सैलानियों का पता लगाने की कोशिश कर रहा है। पर्यटन मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने उन्हें पत्र लिखकर उन ईरानी सैलानियों का पता लगाने को कहा है जो परामर्श जारी होने से पहले देश में दाखिल हुए थे। कोरोना वायरस को फैसले से रोकने के प्रयास तेज करते हुए नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने शुक्रवार को कहा कि विमानन कर्मियों के ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट (श्वसन परीक्षण) से पहले उनका सर्दी-खांसी, ज्वर और अन्य लक्षणों को लेकर परीक्षण किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: भारतीय अर्थव्यवस्था की बुनियाद मजबूत है, नीतियां स्पष्ट हैं: PM मोदी

विमान के चालक दल के सदस्य और हवाई पट्टी पर काम करने वाले अन्य लोग विमानन कर्मियों में शामिल हैं। ब्रेथ एनालाइजर (बीए) विमान यातायात नियंत्रक, फ्लाइट डिस्पैचर, विमान रखरखाव कर्मी और एयरोड्रम ऑपरेशन कर्मी आदि पर लागू होता है। थाईलैंड और मलेशिया की यात्रा करने वाला दिल्ली का एक व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। इसके साथ ही भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 31 हो गई है। दिल्ली में कोरोना वायरस का यह तीसरा मामला है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा,  एक और व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। वह दिल्ली का रहने वाला है और थाईलैंड तथा मलेशिया की यात्रा कर चुका है। उसकी तबीयत स्थिर है और उसकी निगरानी की जा रही है। भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या अब 31 हो गई है। पश्चिमी दिल्ली के निवासी एक व्यक्ति के परिवार के सात सदस्यों को उनके आवास पर पृथक रखा गया है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस: अटारी-वाघा सीमा पर लोगों के बगैर होगा दैनिक रिट्रीट कार्यक्रम

देश के 31 पुष्ट मामलों में दिल्ली के मयूर विहार के 45 वर्षीय एक व्यक्ति और आगरा के उसके छह रिश्तेदार शामिल हैं, जिनसे वह हाल ही में मिला था। संक्रमित लोगों में एक अन्य पेटीएम कर्मचारी है, जो गुड़गांव में काम करता है और पश्चिमी दिल्ली में रहता है। इन सभी का सफदरजंग अस्पताल में इलाज चल रहा है। इनमें 16 इतालवी पर्यटक शामिल हैं। गाजियाबाद के एक व्यक्ति को भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया, जिसका इलाज राष्ट्रीय राजधानी के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में किया जा रहा है। हैदराबाद के एक 24 वर्षीय व्यक्ति को भी संक्रमित पाया गया है, जिसे अलग रखा गया है।

पुष्ट मामलों की कुल संख्या में पिछले महीने केरल से सामने आए पहले तीन मामले भी शामिल हैं। इलाज पूरा होने के बाद तीनों व्यक्तियों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। ताजा परामर्श के अनुसार किसी भी देश से आने वाले विदेशी यात्री को चिकित्सा जांच से गुजरना अनिवार्य है। इसके लिए पर्याप्त जांच उपाय किए गए हैं और कुल 30 हवाईअड्डों पर यात्रियों की जांच की जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डबल्यूएचओ) के सहयोग से कोविड-19 पर एक दिवसीय राष्ट्रीय-स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आयोजित किया है।

इसे भी पढ़ें: डब्ल्यूएचओ ने दुनिया से कोरोना वायरस को अधिक गंभीरता से लेने की अपील की

प्रशिक्षण कार्यक्रम में सभी राज्यों और रेलवे, रक्षा तथा अर्धसैनिक बलों के अस्पतालों के 280 स्वास्थ्य अधिकारी हिस्सा ले रहे हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर एहतियात के तौर पर दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में स्कूलों में सुबह की सभा निलंबित करने का निर्देश दिया है। शिक्षा निदेशालय ने स्कूलों को अगले आदेश तक कर्मचारियों के लिए बायोमीट्रिक उपस्थिति व्यवस्था को फिलहाल बंद करने की सलाह दी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए आंगनवाड़ी केंद्रों को बंद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार के बाल देखभाल केंद्रों को शुक्रवार से बंद किया गया है।

दक्षिण पश्चिमी दिल्ली के सभी सरकारी और निजी अस्पतालों को कोरोना वायरस के मरीजों के लिए 10 फीसदी बिस्तर आरक्षित करने का निर्देश दिया गया है। दक्षिण पश्चिमी दिल्ली के जिला मजिस्ट्रेट राहुल सिंह ने शुक्रवार को आदेश जारी कर सभी सरकारी और निजी अस्पतालों को कोविड-19 के मरीजों के लिए पृथक बिस्तर आरक्षित करने का निर्देश दिया है। उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) अपने चार अस्पतालों में घातक बीमारी के लिए अलग वार्ड स्थापित करने की तैयारी कर रहा है।

इसे भी पढ़ें: ईरान में 4,747 पुष्ट मामलों के बीच वायरस से 124 लोगों की मौत

नगर निकाय ने पहले से ही बाड़ा हिंदूराव अस्पताल में कोरोना वायरस के रोगियों के लिए 14 बिस्तरों वाला एक अलग वार्ड स्थापित कर रखा है। गुजरात में अब तक कोरोना वायरस का कोई पुष्ट मामला सामने नहीं आया है। हालांकि राज्य सरकार ने एहतियात के तौर पर आठ मार्च को महिला दिवस पर राज्य में होने वाले सभी कार्यक्रमों को स्थगित करने का फैसला किया है। कोरोना वायरस के मद्देनजर पंजाब में अटारी-वाघा सीमा पर भारत और पाकिस्तान के बीच रोजाना होने वाले रिट्रीट कार्यक्रम में लोगों को शामिल होने की इजाजत नहीं होगी। 

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक प्रवक्ता ने कहा कि बीएसएफ ध्वज को उतारने समेत अन्य सभी प्रक्रियाओं का पालन जारी रखेगा।  विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने विश्वविद्यालयों को निर्देश दिया है कि कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए ज्यादा संख्या में इकट्ठा होने से बचें। साथ ही यूजीसी ने सलाह दी है कि जिन कर्मचारियों और छात्रों ने घातक विषाणु से प्रभावित देशों की यात्रा की है उन्हें 14 दिनों के लिए घर में पृथक रखा जाए।

इसे भी पढ़ें: ईरान में 4,747 पुष्ट मामलों के बीच वायरस से 124 लोगों की मौत

यूजीसी के सचिव रजनीश जैन ने सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों को लिखे पत्र में कहा, ‘‘परिसर में ज्यादा संख्या में एकत्र होने से बचें। कोई भी छात्र या कर्मचारी जिसने कोविड- 19 से प्रभावित देशों की यात्रा की है या पिछले 28 दिनों से ऐसे लोगों के साथ संपर्क में है, उसकी निगरानी की जानी चाहिए और 14 दिनों के लिए घर में पृथक रखा जाना चाहिए।’’ कार्मिक मंत्रालय के एक आदेश के मुताबिक कोरोना वायरस के प्रसार की रोकथाम के लिये एहतियाती कदम के तहत केंद्र सरकार के सभी कर्मचारियों को शुक्रवार को आधार आधारित बायोमीट्रिक प्रणाली से हाजिरी लगाने से छूट दे दी गई। इसकी बजाय वे रजिस्टर में अपनी हाजिरी दर्ज करेंगे। 

आदेश में कहा गया, “यह पाया गया है कि वायरस के प्रसार का सबसे सामान्य तरीका संक्रमित सतह हैं। इसलिए उन सतहों को छूने से बचना चाहिए जो मानव संपर्क की वजह से संक्रमित हो सकती हैं।” इसमें सभी मंत्रालयों से कहा गया है कि वे अपने कर्मचारियों को 31 मार्च तक आधार आधारित बायोमीट्रिक हाजिरी प्रणाली के जरिए अपनी उपस्थिति दर्ज कराने से छूट दें। सीआरपीएफ और बीएसएफ जैसे केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) ने कोरोना वायरस के प्रकोप के मद्देनजर आधिकारिक होली समारोहों को रद्द करने का फैसला किया है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस: CISF ने स्थगित किया वार्षिक परेड समारोह

इन बलों ने देशभर में अपने सभी स्थानों पर रंगों के त्योहार को सामूहिक रूप से मनाने के लिए आयोजित कार्यक्रम रद्द करने के निर्देश जारी किए हैं। सीएपीएफ में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ), भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) बल और सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) शामिल हैं। वे केंद्रीय गृह मंत्रालय की कमान के तहत कार्य करते हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को लेकर केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) ने आने वाले हफ्ते में देशभर में आयोजित होने वाली अपनी वार्षिक परेड और इससे संबंधित समारोहों को स्थगित कर दिया है। 

ऐसे ही एक अन्य फैसले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने भी आठ मार्च को महिला दिवस के मौके पर इंडिया गेट पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम को स्थगित कर दिया है। कोरोना वायरस का असर अंतरराष्ट्रीय भारतीय फिल्म अकादमी (आईफा) पुरस्कार के 20वें संस्करण और लोटस मेकअप इंडिया फैशन वीक (एलएमआईएफडब्ल्यू) पर भी पड़ा है और इन्हें फिलहाल स्थगित करना पड़ा है। आईफा आयोजकों ने कोरोना वायरस के संक्रमण की चिंताओं के मद्देनजर 27 से 29 मार्च तक मध्य प्रदेश के इन्दौर में होने वाले समारोह को स्थगित करने की घोषणा की है।

इसे भी पढ़ें: पहले Coronavirus और अब Yes Bank ने की शेयर बाजार की हालत खास्ता, सेंसेक्स 894 अंक डूबा

आईफा द्वारा शुक्रवार को जारी बयान में कहा गया, ‘‘कोरोना वायरस (कोविड-19) के प्रसार के कारण बढ़ती चिंताओं के मद्देनजर मध्य प्रदेश सरकार, आईफा प्रबंधन और फिल्म उद्योग के लोगों से परामर्श के बाद बड़े पैमाने पर आईफा प्रशंसकों और सामान्य समुदाय के स्वास्थ्य एवं सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मार्च 2020 में होने वाले बहुप्रतीक्षित सप्ताहांत समारोह और अवार्ड 2020 समारोह को स्थगित करने का फैसला लिया गया है।’’

बयान में कहा गया कि मध्य प्रदेश में होने वाले आईफा समारोह की नयी तारीख और कार्यक्रम की घोषणा जल्द ही की जाएगी। फैशन डिजाइन काउंसिल ऑफ इंडिया (एफडीसीआई) की तरफ से आयोजित होने वाले एलएमआईएफडब्ल्यू पहले 11 मार्च से 15 मार्च तक होने वाला था लेकिन बृहस्पतिवार को एफडीसीआई के अध्यक्ष सुनील सेठी ने घोषणा की कि इसे रद्द किया जा रहा है। केंद्रीय मत्स्य पालन, डेयरी और पशुपालन मंत्री गिरिराज सिंह ने लोगों से उन अफवाहों पर ध्यान न देने को कहा है जिनमें कहा जा रहा है कि कोरोना वायरस मांसाहारी भोजन जैसे अंडे, चिकन, मटन और समुद्री भोजन से फैलता है।

इसे भी पढ़ें: वुहान से लौटे छात्र ने सुनायी आपबीती, बताया- भूतहा बन गया है शहर, सड़कें पड़ी हैं वीरान

उन्होंने कहा कि यहां तक कि विश्व पशु स्वास्थ्य संगठन (ओआईई) के साथ-साथ भारतीय खाद्य सुरक्षा नियामक एफएसएसएआई ने कहा है कि पशुओं से मनुष्यों में कोरोना वायरस के फैलने का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। इटली से आए 13 पर्यटकों को अमृतसर के एक होटल में स्वास्थ्य विभाग ने बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस के लक्षणों की जांच के लिए पृथक रखा। अधिकारी ने बताया कि इन पर्यटकों को होटल में अपने कमरों से बाहर नहीं जाने को कहा गया। वे बृहस्पतिवार को पहुंचे थे।

अमृतसर के उपसंभागीय मजिस्ट्रेट (एसडीएम) विकास हीरा ने बताया कि शुक्रवार को मेडिकल जांच के दौरान उनमें कोरोना वायरस के लक्षण नहीं मिले। उसके बाद उन्हें दिल्ली जाने की इजाजत दे दी गयी। देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कांग्रेस शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर कहा कि वे कोरोना वायरस से निपटने को लेकर प्रभावी कदम उठाएं और अपने राज्यों में पूरी तैयारी रखें।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस के कारण टूटी फुटबॉल मैच की परंपरा, खिलाड़ी नहीं मिलाएंगे हाथ

पंजाब, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और पुडुचेरी के मुख्यमंत्रियों को लिखे पत्रों में सोनिया ने कहा, ‘‘हम वैश्विक स्तर पर स्वास्थ्य से जुड़ी आपात स्थिति में हैं। दुनियाभर में इसे लेकर उठाए जा रहे कदमों के साथ ही हमें घरेलू स्तर पर भी प्रभावी कदम उठाने होंगे।’’ मिजोरम में, हाल ही में विदेश से लौटे 41 लोगों को एहतियात के तौर पर अलग रखा गया गया है और उनकी जांच की जा रही है। अब तक 14,868 लोगों की जांच हो चुकी है।

इसे भी देखें: कोरोना वायरस के कारण इस बार देश में होली के बाजार और लोगो का उत्साह हुआ फीका  


Related Story

तीखे बयान