बुधवार, 26 जून 2019 | समय 08:05 Hrs(IST)

बढ़ती अपेक्षाएं और आकांक्षाएं बेहतर भारत के निर्माण की गारंटी: नरेन्द्र मोदी

By LSChunav | Publish Date: Jun 10 2019 9:28AM
बढ़ती अपेक्षाएं और आकांक्षाएं बेहतर भारत के निर्माण की गारंटी: नरेन्द्र मोदी

मोदी दो देशों की यात्रा के बाद तिरुपति पहुंचे हैं। उन्होंने राज्य भाजपा द्वारा रेनीगुंटा में आयोजित धन्यवाद जन सभा को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि उन्हें देश के 130 करोड़ लोगों पर भरोसा है।

तिरुपति। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को कहा कि लोगों की बढ़ती अपेक्षाएं और आकांक्षाएं जैसा कि हाल के लोकसभा चुनाव परिणामों में दिखाई दिया है, वह बेहतर भारत के निर्माण की गारंटी है। मोदी ने कहा,‘‘ हमें जो प्रचंड जनादेश मिला है उसे देखते हुए कुछ लोग सोचते हैं कि आकांक्षाएं और अपेक्षाएं (सरकार पर) बढ़ गई हैं। वे यह भी अचरज करते हैं कि मोदी क्या कर सकता है। हमें इसे एक बड़े अवसर की तरह देखना चाहिए। मैं इसे बेहतर भारत की गारंटी के तौर पर देखता हूं।’’ मोदी दो देशों की यात्रा के बाद तिरुपति पहुंचे हैं। उन्होंने राज्य भाजपा द्वारा रेनीगुंटा में आयोजित धन्यवाद जन सभा को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि उन्हें देश के 130 करोड़ लोगों पर भरोसा है।

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे विश्वास है कि उनके योगदान और समर्थन से हम देश को नयी दिशा दे सकते हैं।’’ मोदी ने अक्टूबर 2019 में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती और 2022 में देश के आजादी की 75वीं वर्षगांठ का जिक्र करते हुए कहा कि दो बेहतरीन पर्व आने वाले समय में देश के सामने है। उन्होंने कहा,‘‘अगर 130 करोड़ भारतीय में से प्रत्येक एक कदम आगे बढ़ाए तो देश भी कई कदम आगे बढ़ जाएगा।’’
उन्होंने भारत के 130 करोड़ लोगों के सपनों को समझने के लिए भगवान वेंकटेश्वर का आशीर्वाद मांगा और कहा कि केन्द्र और राज्य को इसे पाने के लिए साथ मिल कर काम करना चाहिए और नए भारत का निर्माण करना चाहिए। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर प्ररोक्ष रूप से तंज करते हुए कहा कि कुछ लोग चुनावी खुमारी से अभी तक बाहर नहीं निकल सके हैं। मोदी ने कहा,‘‘हमारे लिए यह समाप्त हो चुका है। अब हमारा पूरा ध्यान विकास और जनता के कल्याण में है।’’ उन्होंने उम्मीद जताई कि मुख्यंमत्री जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व में आंध्र प्रदेश विकास के पथ पर आगे बढ़ेगा।

तीखे बयान