गुरुवार, 21 नवम्बर 2019 | समय 19:14 Hrs(IST)

हुड्डा पर भरोसा जताने में कांग्रेस ने कर दी देरी, अब लेना पड़ सकता है दूसरों का समर्थन

By अनुराग गुप्ता | LSChunav | Publish Date: 10/24/2019 12:24:00 PM
हुड्डा पर भरोसा जताने में कांग्रेस ने कर दी देरी, अब लेना पड़ सकता है दूसरों का समर्थन

सोनिया गांधी और राहुल गांधी के मोह में फंसे रहकर पार्टी ने चुनाव की घोषणा होने के 15 दिन पहले ही भूपेंद्र सिंह हुड्डा को हरियाणा का चेहरा बनाया।

लोकसभा चुनाव में हार से निराश कांग्रेस ने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर भरोसा तो जताया लेकिन काफी देरी कर दी। एक तरफ कांग्रेस के भीतर गुटबाजी की चल रही थी तो दूसरी तरफ कहा जा रहा था कि राहुल गांधी के अध्यक्ष पद छोड़ने के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता राहुल खेमे के नेताओं को निशाना बना रहे हैं। हालांकि सोनिया गांधी के अंतरिम अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी में वरिष्ठ और अनुभवी नेतृत्व की वापसी हो गई। 

इसे भी पढ़ें: हुड्डा ने जेजेपी और कांग्रेस नेताओं से साधा संपर्क, सभी को दोपहर 1 बजे किया तलब

इसके बावजूद आरोप लगते रहे कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी के मोह में फंसे रहकर पार्टी ने चुनाव की घोषणा होने के 15 दिन पहले ही भूपेंद्र सिंह हुड्डा को हरियाणा का चेहरा बनाया। वो भी उस वक्त जब उन्होंने एक रैली बुलाई और उसमें हुड्डा को भारी जनसमर्थन प्राप्त हुआ। इस रैली को देखने के बाद आलाकमान को यह फैसला लेना पड़ा। इसी के साथ पार्टी ने कुमारी शैलजा को प्रदेश अध्यक्ष बना दिया।

इसे भी पढ़ें: सोनिया गांधी ने हुड्डा से की बात, शैलजा ने कहा- हरियाणा में कांग्रेस बनाएगी सरकार

अगर रुझानों पर ध्यान दें तो हुड्डा पर पहले भरोसा जताया जाता तो लोकसभा चुनावों में निराश हुई कांग्रेस को बड़ा फायदा मिल सकता था। फिलहाल जो स्थिति बन रही है उसके मुताबिक प्रदेश में किंगमेकर की भूमिका में जेजेपी और अन्य दिखाई दे रहे हैं। 


Related Story

तीखे बयान