बंगाल में 2019 के मुकाबले भाजपा का मत प्रतिशत 2% से कम घटा, टीएमसी का 5% बढ़ा

LSChunav     May 03, 2021
शेयर करें:   
बंगाल में 2019 के मुकाबले भाजपा का मत प्रतिशत 2% से कम घटा, टीएमसी का 5% बढ़ा

भाजपा ने 2019 के लोकसभा चुनाव में 40.7 प्रतिशत वोट हासिल किए थे, और राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 18 पर जीत हासिल की थी। दूसरी ओर सत्ताधारी टीएमसी को 43.3 प्रतिशत वोट मिले थे। चुनाव आयोग के अनुसार भाजपा को विधानसभा चुनावों में 38.09 प्रतिशत वोट मिले, जबकि टीएमसी के खाते में 47.97 प्रतिशत मत गए।

चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में भाजपा के मत प्रतिशत में दो प्रतिशत से कम की गिरावट हुई, जबकि तृणमूल कांग्रेसका आंकड़ा करीब पांच प्रतिशत बढ़ा। भाजपा ने 2019 के लोकसभा चुनाव में 40.7 प्रतिशत वोट हासिल किए थे, और राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 18 पर जीत हासिल की थी। दूसरी ओर सत्ताधारी टीएमसी को 43.3 प्रतिशत वोट मिले थे। चुनाव आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध ताजा आंकड़ों के अनुसार भाजपा को विधानसभा चुनावों में 38.09 प्रतिशत वोट मिले, जबकि टीएमसी के खाते में 47.97 प्रतिशत मत गए। 
 

इसे भी पढ़ें: लोकसभा, विधानसभा उप चुनावों में सीटों के बराबर बंटवारे की तरफ बढ़ रही हैं भाजपा और कांग्रेस


इसी तरह असम में भाजपा का मत प्रतिशत 2019 के लोकसभा चुनावों के मुकाबले विधानसभा चुनावों में 36 प्रतिशत से घटकर 32 प्रतिशत रह गया। राज्य में मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस का वोट प्रतिशत 2019 के लोकसभा चुनावों के 35.44 प्रतिशत से घटकर 29.6 प्रतिशत रह गया। तमिलनाडु में द्रमुक को 2019 के लोकसभा चुनावों में 32.76 प्रतिशत वोट मिले थे, जो इस बार बढ़कर 38 प्रतिशत हो गया। यहां अन्नाद्रमुक का मत प्रतिशत 18.4 प्रतिशत से 33.48 प्रतिशत तक चला गया। केरल में माकपा की अगुवाई वाले एलडीएफ को 2019 के समान ही वोट मिले, जबकि कांग्रेस के मत प्रतिशत में करीब 13 प्रतिशत की गिरावट हुई।