बुधवार, 13 नवम्बर 2019 | समय 18:25 Hrs(IST)

विधानसभा चुनावों में 370 पर बात न होकर, महंगाई पर होनी चाहिए: कांग्रेस

By LSChunav | Publish Date: Oct 14 2019 8:51PM
विधानसभा चुनावों में 370 पर बात न होकर, महंगाई पर होनी चाहिए: कांग्रेस

कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने कहा कि कांग्रेस को अनुच्छेद 370 बहाल करने की चुनौती देने के बजाय मोदी को पेट्रोल, डीजल, प्याज और टमाटर की कीमतों को कम करने के बारे में बोलना चाहिए।

मुम्बई। चुनावी रैलियों में अनुच्छेद 370 को खत्म करने का मुद्दा उठाने के लिए कांग्रेस ने सोमवार को भाजपा की आलोचना की और कहा कि सत्तारूढ़ दल और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आर्थिक मंदी, मूल्य वृद्धि और बेरोजगारी जैसे मुद्दों से आम आदमी का ध्यान भटका रहे हैं। मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह सहित भाजपा के शीर्ष नेता महाराष्ट्र और हरियाणा की चुनावी रैलियों में जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के प्रावधान हटाने के बारे में लगातार बयान दे रहे हैं। मोदी ने कांग्रेस को चुनौती देते हुए कहा कि वह सार्वजनिक तौर पर बताए कि क्या सत्ता में आने पर वह विवादास्पद संवैधानिक प्रावधान को बहाल करेगी, जिसके तहत जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा हासिल था।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस नेता शिवकुमार की जमानत याचिका पर मंगलवार को होगी सुनवाई

कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कांग्रेस को अनुच्छेद 370 बहाल करने की चुनौती देने के बजाय मोदी को पेट्रोल, डीजल, प्याज और टमाटर की कीमतों को कम करने के बारे में बोलना चाहिए। शेरगिल ने कहा कि प्रधानमंत्री को घोटाला प्रभावित पीएमसी बैंक के जमाकर्ताओं को संकट से उबारने के लिए सामने आना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनावों के दौरान अनुच्छेद 370 के बारे में बोलेगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन अगर वास्तव में प्रधानमंत्री के पास 56 ईंच का सीना है तो उन्हें पेट्रोल, डीजल, प्याज और टमाटर की कीमतों में कमी लाने के लिए काम करना चाहिए और पीएमसी बैंक के लाखों जमाकर्ताओं को उनका धन लौटा देना चाहिए।’’ 

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के दौरान 9673 मतदान केंद्रों से होगा सीधा वेब प्रसारण

कांग्रेस प्रवक्ता ने प्रधानमंत्री पर आरोप लगाया कि वह प्रशासन पर ध्यान देने के बजाया हमेशा चुनावी मोड में होते हैं। संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस महासचिव आर पी एन सिंह ने कहा कि सरकार को आर्थिक मंदी और बढ़ती बेरोजगारी का समाधान ढूंढना चाहिए। उन्होंने कहा कि समाधान ढूंढने से पहले समस्या को स्वीकार कीजिए। इसके बजाए वरिष्ठ मंत्री रविशंकर प्रसाद कह रहे हैं कि तीन हिंदी फिल्मों ने खूब कमाई की और इसलिए कोई मंदी नहीं है। सिंह ने कहा कि औद्योगिक उत्पादन, उत्पादन वृद्धि दर और निवेश काफी घटे हैं जबकि बेरोजगारी सबसे ज्यादा है।


Related Story

तीखे बयान