रविवार, 18 अगस्त 2019 | समय 07:07 Hrs(IST)

बंगाल में प्रजातंत्र का चीरहरण और सांस्कृतिक पहचान पर प्रहार कर रही है भाजपा

By LSChunav | Publish Date: May 15 2019 8:31PM
बंगाल में प्रजातंत्र का चीरहरण और सांस्कृतिक पहचान पर प्रहार कर रही है भाजपा

सुरजेवाला ने कहा, ‘‘भाजपा का रास्ता घृणा, बंटवारे, हिंसा और गाली-गलौज का है। वह प्रजातंत्र का अपहरण करने की साजिश कर रही है।

नयी दिल्ली। कोलकाता में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोडशो के दौरान हुई हिंसा को लेकर कांग्रेस ने बुधवार को दावा किया कि भगवा दल पश्चिम बंगाल में सत्ताबल और बाहुबल के जरिए प्रजातंत्र का चीरहरण कर रहा है तथा राज्यों की सांस्कृतिक पहचान एवं संघीय ढांचे पर प्रहार कर रहा है। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी कहा कि समाज सुधारक ईश्वरचंद्र विद्यासगर की प्रतिमा खंडित किए जाने से साबित हो गया है कि भाजपा क्षेत्रीय परंपरा एवं संस्कृति का सम्मान नहीं करती।

सुरजेवाला ने कहा, ‘‘भाजपा का रास्ता घृणा, बंटवारे, हिंसा और गाली-गलौज का है। वह प्रजातंत्र का अपहरण करने की साजिश कर रही है। भाजपा सत्ताबल और बाहुबल का इस्तेमाल कर पश्चिम बंगाल में प्रजातंत्र का चीरहरण कर रही है। मुझे विश्वास है कि बंगाल की बहादुर जनता उनको इस षड्यंत्र में कभी कामयाब नहीं होने देगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जिस तरह ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा को भाजपा के लोगों द्वारा खंडित किया गया, उससे पता चलता है कि क्षेत्रीय आईकॉन में इनको विश्वास नहीं है और न ही भाजपा क्षेत्रीय आकांक्षा, परंपरा और संस्कृति का सम्मान करती है।’’ कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘भाजपा समझ गयी है कि गुजरात से लेकर बिहार तक, दक्षिण भारत और दूसरे राज्यों में वह चुनाव हार रही है। उन्हें लगता है कि नफरत और विभाजन का खेल खेलकर वह सत्ता हथिया लेंगे। मुझे नहीं लगता कि वे अपने मंसूबे में कामयाब होंगे।’’
पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘सत्ता लोलुप मोदी-शाह जोड़ी ने तय कर लिया है कि वे भारत के सभी प्रदेशों की सांस्कृतिक पहचान पर बार-बार प्रहार करेंगे। मोदी सरकार ने इस प्रकार की सांस्कृतिक पहचान पर प्रहार कर-करके भारत के संघीय ढांचे का अनेक बार मजाक बनाया है। ‘टीम इंडिया’ ये शब्द जो मोदी जी बार-बार इस्तेमाल करते हैं, वो नाटक अब बेकार हो गया है।’’ उन्होंने दावा किया, ‘‘ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त किए जाने की हम निंदा करते हैं । सच्चाई ये है कि आज सत्तारुढ़ पार्टी ने एक नई संस्कृति पैदा कर दी है - जंगल राज, भीड़तंत्र। उसको जानबूझ कर प्रोत्साहित किया जाता है। ’’
 

Related Story

तीखे बयान