गुरुवार, 5 दिसम्बर 2019 | समय 22:57 Hrs(IST)

असम में भाजपा का प्रदर्शन शानदार, नौ सीटों पर दर्ज की जीत

By LSChunav | Publish Date: 5/25/2019 8:58:44 AM
असम में भाजपा का प्रदर्शन शानदार, नौ सीटों पर दर्ज की जीत

भाजपा दस सीटों पर चुनाव लड़ी। उसने छह सीटें बरकरार रखीं, तीन सीटें दूसरे दलों से झटक ली और वह एक सीट नौगोंग कांग्रेस के हाथों हार गयी।

गुवाहाटी। लोकसभा चुनाव में पूरे देश में बहुत बड़ी ताकत के रूप में उभरी भाजपा ने असम में कुल 14 में से नौ सीटें जीतकर न केवल अपनी सीटें बढ़ायी बल्कि जीत के अंतर को भी बढ़ाया। राज्य में कांग्रेस ने तीन सीटों पर जीत हासिल की। हालांकि, वह दो सीटें हार गयी लेकिन उनके स्थान पर दो अन्य सीटें जीत गयीं। एआईयूडीएफ के खाते में एक सीट गई। वह एक-एक सीट क्रमश: कांग्रेस और भाजपा के हाथों हार गयी। एक निर्दलीय सांसद ने भी अपनी सीट बचा ली। भाजपा दस सीटों पर चुनाव लड़ी। उसने छह सीटें बरकरार रखीं, तीन सीटें दूसरे दलों से झटक ली और वह एक सीट नौगोंग कांग्रेस के हाथों हार गयी। उसने अपनी सहयोगी अगप और बीपीएफ के लिए क्रमश: तीन और एक सीट छोड़ी थी लेकिन वे जीत नहीं पायीं।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी ने राष्ट्रपति कोविंद को सौंपा अपना इस्तीफा

पिछली लोकसभा में राज्य की सात सीटें जीतने वाली भाजपा ने इस बार दो निवर्तमान सांसदों को टिकट दिया था जबकि पांच अन्य सीटों पर उसने नये उम्मीदवार उतारे थे। इन पांचों में एक को छोड़कर बाकी चार विजयी रहे। कांग्रेस ने कलियाबोर सीट बरकरार रखी है लेकिन सिलचर और स्वशासी जिला भाजपा के हाथों गंवा बैठी। कांग्रेस ने नौगोंग सीट भाजपा से और बरपेटा सीट एआईयूडीएफ से हथिया ली। लोकसभा चुनाव जीतने वाले भाजपा उम्मीदवार लखीमपुर, डिब्रूगढ़, स्वशासी जिला, गौहाटी, मंगलदोई, तेजपुर, कलियाबोर,बरपेटा में जीत का अंतर उल्लेखनीय रूप से तथा सिलचर में मामूली रूप से बढ़ाने में कामयाब रहे। भगवा पार्टी ने डिब्रूगढ़ में भी शानदार जीत हासिल की, जहां से उसके मौजूदा सांसद रामेश्वर तेली ने कांग्रेस के पूर्व केंद्रीय मंत्री पबन सिंह घाटोवार को सबसे अधिक 3,46,083 मतों के अंतर से हराया। 

लखीमपुर में, भाजपा सांसद प्रदान बरुआ ने कांग्रेस के उम्मीदवार अनिल बोरगोहेन को 3,50,551 वोटों से हराया। जीत का यह दूसरा सबसे बड़ा अंतर है। प्रतिष्ठित गौहाटी सीट पर, भाजपा की क्वीन ओजा और गुवाहाटी की पूर्व मेयर ने कांग्रेस उम्मीदवार बबीता शर्मा को 3,45,606 मतों से हराया। उन्होंने पार्टी की जीत का अंतर बढ़ाया है। पिछले आम चुनाव में भाजपा की विजया चक्रवर्ती 3,15,784 वोटों के अंतर से जीती थीं। मंगलदोई में भाजपा के दिलीप सैकिया ने कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य भुवनेश्वर कलिता को 1,38,545 वोटों के अंतर से हराया। पिछली बार भाजपा सांसद रमन डेका 22,884 मतों के अंतर से जीते थे। तेजपुर में राज्य के श्रम मंत्री पल्लब लोचन दास ने कांग्रेस के उम्मीदवार एमजीवीके भानु को 2,42,841 मतों से हराया। पिछली बार सांसद आर पी शर्मा 86,020 वोटों के अंतर विजयी रहे थे।

इसे भी पढ़ें: बिहार में सबसे अधिक वोटरों ने दबाया नोटा का बटन

भगवा पार्टी ने स्वशासी जिला (सु) में भी जीत हासिल कर सबको चौंकाया। भाजपा उम्मीदवार होरेन सिंह बे ने तीन बार के कांग्रेस सांसद बीरेन सिंह एंगती को 2,39,626 मतों से हराया। भाजपा के राजदीप राय ने कांग्रेस की महिला शाखा की प्रमुख सुष्मिता देव को 81,596 वोटों के अंतर से हराकर सिलचर सीट छीन ली। कांग्रेस ने 2014 में यह सीट 35,241 वोटों से जीती थी। कांग्रेस के विजयी उम्मीदवारों में निवर्तमान सांसद गौरव गोगोई ने कलियाबोर में अगप के मोनिमाधब महंत को 2,09,994 से हराया। 


Related Story

तीखे बयान