मंगलवार, 7 अप्रैल 2020 | समय 02:06 Hrs(IST)

भजनपुरा-यमुना विहार हिंसा: बहुत भारी बीती सोमवार की रात, खौफजदा हैं लोग

By LSChunav | Publish Date: 2/25/2020 6:43:48 PM
भजनपुरा-यमुना विहार हिंसा: बहुत भारी बीती सोमवार की रात, खौफजदा हैं लोग

पूर्वी दिल्ली के अशांत भजनपुरा और यमुना विहार इलाकों में दंगाइयों ने सोमवार की रात और मंगलवार की सुबह जो कहर बरपाया उससे इलाके के लोग बुरी तरह से दहशत में हैं। इलाके में रह रहे लोगों पर यह रात बहुत भारी बीती।

नयी दिल्ली। पूर्वी दिल्ली के अशांत भजनपुरा और यमुना विहार इलाकों में दंगाइयों ने सोमवार की रात और मंगलवार की सुबह जो कहर बरपाया उससे इलाके के लोग बुरी तरह से दहशत में हैं। इलाके में रह रहे लोगों पर यह रात बहुत भारी बीती। वे इतने खौफजदा हैं कि घटना का ब्यौरा देते हुए उनके चेहरे पीले पड़ जा रहे हैं और वे हाथ जोड़कर उनका नाम न छापने की अपील कर रहे हैं। हिंसक माहौल में फंसे एक बुजुर्ग को अपनी जान बख्श देने के लिए दंगाइयों के हाथ तक जोड़ने पड़े। यह बुजुर्ग अस्पताल से लौट रहे थे जहां उनका पोता भर्ती है।

इसे भी पढ़ें: उत्तरपूर्वी दिल्ली में फिर भड़की हिंसा, अबतक 9 लोगों की मौत, चारों तरफ छाया रहा धुएं का गुबार

यमुना विहार के सी ब्लॉक में रहने वाले इस बुजुर्ग व्यक्ति ने आपबीती कुछ इस तरह सुनाई, ‘‘मैं गंगाराम अस्पताल से लौट रहा था जहां मेरा पोता भर्ती है। घर वापस पहुंचना बहुत मुश्किल था। मुझे सड़क पर हर कदम पर दंगाइयों से अपनी जान की भीख मांगनी पड़ी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘केवल मैं जानता हूं कि मैं घर कैसे लौटा !’’ भजनपुरा में सोमवार को एक पेट्रोल पंप भी जला दिया गया। स्थानीय लोगों ने बताया कि भीड़ मुख्य सड़कों के साथ ही गलियों तक में घुस आई थी जबकि सुरक्षाकर्मी केवल उस मुख्य सड़क पर ही तैनात थे जो एक तरफ से भजनपुरा, रोहिणी जाती है तो दूसरी तरफ से गोकलपुरी फलाईओवर के जरिए लोनी, गाजियाबाद जाती है।

यमुना विहार के एक अन्य निवासी ने नाम उजागर न करने का आग्रह करते हुए कहा, ‘‘फोर्स कम है। वे वहां हैं भी, तो भी कुछ नहीं कर रहे...मेरी समझ में नहीं आ रहा कि क्यों?’’ भीड़ ने बाजारों में तोड़फोड़ की, दुकानों को आग लगा दी, लोगों के हुजूमों ने कुछ लोगों के घरों को घेर लिया, मुख्य द्वारों पर लाठी-डंडों और पत्थरों से हमला किया। उन्होंने कहा, ‘‘मेरे पड़ोस में रात को करीब 200 लोगों की भीड़ ने एक परिवार के घर को घेर लिया। उस परिवार के लोग मदद के लिए चिल्लाते रहे । हमें भी पुकारा, पुलिस को भी बुलाया लेकिन कोई भी उनकी मदद नहीं कर सका।’’

इसे भी पढ़ें: दिल्लीवासियों से हाथ जोड़कर केजरीवाल ने की अपील, बोले- हिंसा में शामिल ना हों

यमुना विहार के एक जाने-माने व्यक्ति ने कहा, ‘‘आज सुबह उस परिवार ने मुझे हमले की एक फुटेज दिखाई जो उनके सीसीटीवी में कैद हो गई थी। यह भयावह है। यहां हर कोई डरा हुआ है।’’ इस व्यक्ति ने भी अपना नाम उजागर न करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि उनका नाम उजागर होने से उनका परिवार भी परेशानी में पड़ सकता है। उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजपुर, जाफराबाद, बाबरपुर, भजनपुरा, यमुना विहार और चांदबाग क्षेत्रों में सोमवार से हिंसा में कम से कम सात लोग मारे जा चुके हैं। उल्लेखनीय है कि इलाके में संशोधित नागरिकता कानून को लेकर हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं।

इसे भी देखें : CAA के खिलाफ जारी है प्रदर्शन, दिल्‍ली के जाफराबाद इलाके में दो गुटों में पथराव 


Related Story

तीखे बयान