सोमवार, 22 जुलाई 2019 | समय 18:20 Hrs(IST)

चुनाव परिणाम

पूरा विवरण जानें
पार्टी आगे जीते
ताज़ा खबरें

हिंगोली

महाराष्ट्र

मैप पर क्लिक कर जानें अपने राज्य की डिटेल्स

मैप 2019 नतीजों पर आधारित हैं

तीखे बयान

  • मतदान की तारीख: 18 अप्रैल
  • जनसंख्या: 1586194
  • हेमंत पाटिल
  • हेमंत पाटिल
  • शिव सेना

2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को महाराष्ट्र की जो दो लोकसभा सीटे मिली थी उसमें नांदेड़ और हिंगोली शामिल थी। हिंगोली लोकसभा सीट पर पहली बार 1977 में लोकसभा चुनाव हुए थे जिसमें जनता पार्टी के चंद्रकांत पाटिल जीते थे। इसके बाद लगातार 1980 से 1989 तक कांग्रेस के उत्तम राठौड़ का इस सीट पर कब्जा रहा। 1991 और 1996 के चुनाव में इस सीट पर शिवसेना जीत दर्ज करने में सफल रही। हालांकि 1998 के चुनाव में शिवसेना हार गई और कांग्रेस फिर सत्ता में आई। 1999 में शिवसेना की वापसी हुई तो 2004 में एक बार फिर कांग्रेस अपनी पुरानी सीट पर जीतने में सफल रही। अगले यानी 2009 के चुनाव में शिवसेना के सुभाष वानखेड़े यहां से जीते, जबकि 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के राजीव शंकराव सातव को हिंगोली के लोगों ने सांसद चुना। राजीव शंकराव को 457476 वोट मिले थे जबकि वानखेड़े सुभाष बाबूराव को 457314 मिल पाए। यानी राजीव सिर्फ 1592 वोटों के अंतर से जीते थे। हिंगोली निर्वाचन क्षेत्र में 6 विधानसभा सीटें आती हैं-


उमरखेड़

किनवट

हदगांव

<....

ताज़ा खबर

तीखे बयान

निर्वाचन क्षेत्र के उम्मीदवार

ताज़ा आलेख